Apple And Amazon Removed The Parlor App From Their Platform, Alleging Illegal Activities – एप्पल और अमेजन ने पार्लर को अपने प्लेटफॉर्म से हटाया, अवैध गतिविधियों का लगाया आरोप

टेक डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Sun, 10 Jan 2021 08:35 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

प्रौद्योगिकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनियों एप्पल और अमेजन ने माइक्रोब्लॉगिंग सोशल मीडिया ‘पार्लर’ को हिंसा की धमकियों तथा अवैध गतिविधियों के चलते अपने-अपने प्लेटफॉर्म से हटा दिया है। पार्लर को ट्विटर की प्रतिस्पर्धी माना जाता है।

अमेरिका में हालिया राजनीतिक घटनाक्रम के बाद फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम जैसे अग्रणी सोशल मीडिया मंचों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खाते को हटा दिया है। इसके बाद ट्रंप के समर्थक पार्लर पर जमा हो रहे हैं। इसे रूढ़िवादी नेताओं के द्वारा भी पसंद किया जा रहा है।

यह कदम एप्पल द्वारा पार्लर को चेतावनी देने के एक दिन बाद उठाया गया। एप्पल ने उक्त चेतावनी में कहा था, ऐसी कई शिकायतें मिली हैं कि पार्लर पर आपत्तिजनक सामग्रियां पोस्ट की जा रही हैं। यह भी आरोप है कि छह जनवरी को वाशिंगटन डीसी में हुई घटना की योजना बनाने में पार्लर के मंच का इस्तेमाल किया गया।

एप्पल ने दि हिल अखबार को एक बयान में बताया, ‘‘हमने हमेशा ही इस बात का समर्थन किया है कि हमारे मंच पर विविध दृष्टिकोण को प्रतिनिधित्व मिले, लेकिन हमारे मंच पर हिंसा व अवैध गतिविधियों के लिये कोई जगह नहीं है। इस बीच अमेजन ने भी अपनी अमेजन वेब सर्विसेज से पार्लर को हटा दिया है।

प्रौद्योगिकी क्षेत्र की दिग्गज कंपनियों एप्पल और अमेजन ने माइक्रोब्लॉगिंग सोशल मीडिया ‘पार्लर’ को हिंसा की धमकियों तथा अवैध गतिविधियों के चलते अपने-अपने प्लेटफॉर्म से हटा दिया है। पार्लर को ट्विटर की प्रतिस्पर्धी माना जाता है।

अमेरिका में हालिया राजनीतिक घटनाक्रम के बाद फेसबुक, ट्विटर और इंस्टाग्राम जैसे अग्रणी सोशल मीडिया मंचों ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खाते को हटा दिया है। इसके बाद ट्रंप के समर्थक पार्लर पर जमा हो रहे हैं। इसे रूढ़िवादी नेताओं के द्वारा भी पसंद किया जा रहा है।

यह कदम एप्पल द्वारा पार्लर को चेतावनी देने के एक दिन बाद उठाया गया। एप्पल ने उक्त चेतावनी में कहा था, ऐसी कई शिकायतें मिली हैं कि पार्लर पर आपत्तिजनक सामग्रियां पोस्ट की जा रही हैं। यह भी आरोप है कि छह जनवरी को वाशिंगटन डीसी में हुई घटना की योजना बनाने में पार्लर के मंच का इस्तेमाल किया गया।

एप्पल ने दि हिल अखबार को एक बयान में बताया, ‘‘हमने हमेशा ही इस बात का समर्थन किया है कि हमारे मंच पर विविध दृष्टिकोण को प्रतिनिधित्व मिले, लेकिन हमारे मंच पर हिंसा व अवैध गतिविधियों के लिये कोई जगह नहीं है। इस बीच अमेजन ने भी अपनी अमेजन वेब सर्विसेज से पार्लर को हटा दिया है।

Source link

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *