Apple Removes 39000 Games Apps From China App Store – Apple ने चाइनीज एप स्टोर से डिलीट किए 39,000 गेम एप्स

टेक डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्ली
Updated Thu, 31 Dec 2020 03:12 PM IST

पढ़ें अमर उजाला ई-पेपर
कहीं भी, कभी भी।

*Yearly subscription for just ₹299 Limited Period Offer. HURRY UP!

ख़बर सुनें

एपल ने एक बार फिर से चीन में बड़ी कार्रवाई करते हुए अपने एप स्टोर से 39,000 गेमिंग एप्स को हटा दिया है। चाइनीज एप्स पर एक दिन में एपल द्वारा होने वाली यह अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है। एपल ने गेमिंग एप्स को एप स्टोर से हटाने का फैसला लाइसेंस जमा ना करने की वजह से लिया है। अभी तक लाइसेंस की कमी के कारण एपल ने कुल 46,000 एप्स को एप स्टोर से हटाया है।

दरअसल इसी साल फरवरी में एपल ने सभी गेम डेवलपर्स को लाइसेंस दिखाने के लिए 30 जून तक का वक्त दिया था, उसके बाद 31 दिसंबर आखिरी तारीख दी गई थी लेकिन डेवलपर्स ने कोई लाइसेंस नहीं दिखाया जिसके बाद एपल ने यह फैसला लिया है। एपल नए इन एप्स को हटाया है उनमें Ubisoft, NBA 2K20 जैसे एप्स शामिल हैं। रिसर्च फर्म Qimai के मुताबिक 1,500 एप्स में से केवल 74 एप्स ने तय समय पर लाइलेंस जमा किए हैं।

चीन में एपल स्थानीय नियमों का पालन करने को लेकर सरकारी दबाव का सामना कर रहा है। सरकार के दबाव के बाद ही एपल ने सभी गेम डेवलपर्स से सरकारी लाइसेंस की मांग की थी। एपल के एप स्टोर पर सभी पेड गेमिंग एप्स को इंटरनेट कंटेंट प्राइवाइडर लाइसेंस की जरूरत होती है। 

ये भी पढ़ें: iPhone 12 Review: नए आईफोन में अपग्रेड करना कितना सही?

चीन में एप स्टोर पर यह नियम साल 2016 से ही है, लेकिन इस तरह की कार्रवाई एपल पहली बार कर रहा है। अभी तक यह साफ नहीं है कि आखिर एपल इस साल चाइनीज गेमिंग एप्स को लेकर इतना सख्त क्यों है। बता दें कि एपल के एप स्टोर का चीन में सबसे बड़ा मार्केट है। केवल चीन से एपल एप स्टोर को 16.4 बिलियन डॉलर्स की कमाई होती है जो कि सिर्फ गेमिंग एप्स से होती है।

जून के फैसले में प्रभावित हुए थे 60,000 एप्स
बता दें कि इससे पहले इसी साल जून में एपल ने चीन के हजारों एप के अपडेट को सस्पेंड कर दिया था। एपल ने यह फैसला सरकारी लाइसेंस की कमी के कारण किया था। एपल के इस फैसले से 60,000 से अधिक गेमिंग एप्स का अपडेट सस्पेंड हो गया था। साल 2010 से लेकर अभी तक सिर्फ 43,000 डेवलपर्स ने ही लाइसेंस जमा किए हैं।

एपल ने एक बार फिर से चीन में बड़ी कार्रवाई करते हुए अपने एप स्टोर से 39,000 गेमिंग एप्स को हटा दिया है। चाइनीज एप्स पर एक दिन में एपल द्वारा होने वाली यह अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई है। एपल ने गेमिंग एप्स को एप स्टोर से हटाने का फैसला लाइसेंस जमा ना करने की वजह से लिया है। अभी तक लाइसेंस की कमी के कारण एपल ने कुल 46,000 एप्स को एप स्टोर से हटाया है।

दरअसल इसी साल फरवरी में एपल ने सभी गेम डेवलपर्स को लाइसेंस दिखाने के लिए 30 जून तक का वक्त दिया था, उसके बाद 31 दिसंबर आखिरी तारीख दी गई थी लेकिन डेवलपर्स ने कोई लाइसेंस नहीं दिखाया जिसके बाद एपल ने यह फैसला लिया है। एपल नए इन एप्स को हटाया है उनमें Ubisoft, NBA 2K20 जैसे एप्स शामिल हैं। रिसर्च फर्म Qimai के मुताबिक 1,500 एप्स में से केवल 74 एप्स ने तय समय पर लाइलेंस जमा किए हैं।

चीन में एपल स्थानीय नियमों का पालन करने को लेकर सरकारी दबाव का सामना कर रहा है। सरकार के दबाव के बाद ही एपल ने सभी गेम डेवलपर्स से सरकारी लाइसेंस की मांग की थी। एपल के एप स्टोर पर सभी पेड गेमिंग एप्स को इंटरनेट कंटेंट प्राइवाइडर लाइसेंस की जरूरत होती है। 

ये भी पढ़ें: iPhone 12 Review: नए आईफोन में अपग्रेड करना कितना सही?

चीन में एप स्टोर पर यह नियम साल 2016 से ही है, लेकिन इस तरह की कार्रवाई एपल पहली बार कर रहा है। अभी तक यह साफ नहीं है कि आखिर एपल इस साल चाइनीज गेमिंग एप्स को लेकर इतना सख्त क्यों है। बता दें कि एपल के एप स्टोर का चीन में सबसे बड़ा मार्केट है। केवल चीन से एपल एप स्टोर को 16.4 बिलियन डॉलर्स की कमाई होती है जो कि सिर्फ गेमिंग एप्स से होती है।

जून के फैसले में प्रभावित हुए थे 60,000 एप्स

बता दें कि इससे पहले इसी साल जून में एपल ने चीन के हजारों एप के अपडेट को सस्पेंड कर दिया था। एपल ने यह फैसला सरकारी लाइसेंस की कमी के कारण किया था। एपल के इस फैसले से 60,000 से अधिक गेमिंग एप्स का अपडेट सस्पेंड हो गया था। साल 2010 से लेकर अभी तक सिर्फ 43,000 डेवलपर्स ने ही लाइसेंस जमा किए हैं।

Source link

admin

Netflix hindi : Review ,Rating , latest news or other related stuff of netflix.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: