Whatsapp Said, There Will Be No Change In Data Sharing System And Policy With Facebook In New Update – व्हाट्सएप ने कहा, नए अपडेट से नहीं भंग होगी यूजर्स की निजता

फेसबुक के मालिकाना हक वाले सोशल मैसेजिंग प्लेटफार्म व्हाट्सएप को अपने नए अपडेट पर उठे विवाद के बाद स्पष्टीकरण जारी करना पड़ा है। कंपनी ने शनिवार को कहा कि नए अपडेट से उसके यूजर्स के निजी चैट की गोपनीयताभंग नहीं होगी। वैश्विक स्तर पर आलोचना का शिकार हुई व्हाट्सएप ने दावा किया कि नए अपडेट से उसके और फेसबुक के बीच डाटा शेयरिंग प्रक्रिया में जरा भी बदलाव नहीं होने जा रहा है।

इस सप्ताह की शुरुआत में व्हाट्सएप ने यूजर्स को अपनी सेवा शर्तों व निजता नीति से जुड़े नए अपडेट के इन-एप नोटिफिकेशन भेजने शुरू किए थे। इन नोटिफिकेशन में व्हाट्सएप ने बताया था कि कैसे यूजर डाटा प्रोसेस किया जाता है और कैसे फेसबुक के सभी उत्पादों के साथ एकीकरण के लिए इस सोशल मीडिया दिग्गज कंपनी के सभी भागीदारों के साथ डाटा शेयर किया जाता है। यूजर्स से व्हाट्सएप का उपयोग जारी रखने के लिए आठ फरवरी तक नई निजता नीति व सेवा शर्तों पर सहमति जताने के लिए भी कहा गया था।

व्हाट्सएप के इन नोटिफिकेशनों ने इंटरनेट पर आलोचनाओं का दौर चालू कर दिया था और फेसबुक के साथ व्हाट्सएप की कथित डाटा शेयरिंग को लेकर विभिन्न प्रकार के मीम भी चलने लगे थे। यूजर्स के बड़े पैमाने पर व्हाट्सएप छोड़कर उसके प्रतिद्वंद्वी प्लेटफार्म सिग्नल और टेलीग्राम डाउनलोड करने की भी खबरें सामने आई थीं। दुनिया के सबसे अमीर आदमी एलन मस्क ने भी इस बहस में हिस्सा लेते हुए लोगों को व्हाट्सएप छोड़ने की सलाह दी थी।

इसके चलते शनिवार को व्हाट्सएप के प्रमुख विल कैथर्ट ने ट्वीट की एक लंबी शृंखला के जरिये अपनी कंपनी का पक्ष रखा। उन्होंने कहा कि कंपनी ने अपनी नीति को पारदर्शी बनाने और लोगों को वैकल्पिक व्यापार सुविधाओं की बेहतर जानकारी देने के लिए अपडेट की है। उन्होंने कहा, यह स्पष्ट करना हमारे लिए बेहद अहम है कि यह अपडेट बिजनेस कम्युनिकेशन की जानकारी देने के लिए और इससे व्हाट्सएप की फेसबुक के साथ डाटा शेयरिंग प्रक्रिया में कोई बदलाव नहीं होगा।

इस अपडेट का इस पर कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा कि लोग अपने दोस्तों या परिवार या दुनिया में किसी अन्य के साथ कैसे निजी बातचीत करते हैं। कैथर्ट ने इस बात पर जोर दिया कि व्हाट्सएप पर चैटिंग पूरी तरह एंड-टू-एंड इनक्रिप्शन (ई2ई) है यानी न तो वह और न ही फेसबुक किसी भी निजी चैट या कॉल को देख सकती है और कंपनी इस निजता की सुरक्षा के लिए पूरी तरह प्रतिबद्ध है।

यह भी पढ़ें : WhatsApp की नई पॉलिसी के बाद Signal की डाउनलोडिंग में 38% का इजाफा, क्या वाकई बेस्ट है Signal?    

टेलीग्राम और सिग्नल एप ने लगाए आरोप

व्हाट्सएप का स्पष्टीकरण सामने आने के बाद उसकी प्रतिद्वंद्वी कंपनियों टेलीग्राम और सिग्नल ने भी इसे लेकर प्रतिक्रिया जाहिर की। टेलीग्राम के संस्थापक व सीईओ पावेल दुरोव ने एक ब्लॉग में आरोप लगाया कि व्हाट्सएप उनकी कंपनी के बारे में सोशल मीडिया पर गलत जानकारी फैलाने के लिए गोपनीय मार्केटिंग कार्यक्रम चालू किया है।

सिग्नल एप की तरफ से भी ट्वीट की लंबी शृंखला के जरिये इस विवाद में हिस्सेदारी की। सिग्नल एप ने अपनी एप की एक पिक्चर शेयर करते हुए भारत, जर्मनी, फ्रांस, ऑस्ट्रिया, फिनलैंड, हांगकांग और स्विटजरलैंड आदि में एप स्टोर्स में अपने नंबर एक हो जाने का दावा किया। एक अन्य ट्वीट में कहा गया, एक मां के प्यार के लिए कोई सेवा शर्तें नहीं होती।

यह भी पढ़ें : नई शर्तों पर विवाद के बाद WhatsApp ने कहा, निजी चैट नहीं होंगे प्रभावित

यह भी पढ़ें : Signal App की प्राइवेसी पॉलिसी क्या है, डाउनलोड करने से पहले पढ़ लीजिए

यह भी पढ़ें : क्या है Signal App, क्या व्हाट्सएप का सबसे बड़ा विकल्प यही है, जानें इसके बारे में सबकुछ

 

Source link

admin

Netflix hindi : Review ,Rating , latest news or other related stuff of netflix.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

%d bloggers like this: